Sports News

ऑस्ट्रेलिया में स्पिन का रहा है पतन… अपने ही देश पर भड़के शेन वॉर्न


Edited By Nityanand Pathak | पीटीआई | Updated:

शेन वॉर्न

मेलबर्न

महान गेंदबाज शेन वॉर्न (Shane Warne) का मानना है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को हर प्रथम श्रेणी मैच में स्पिनर को उतारना चाहिए ताकि देश में स्पिन गेंदबाजी का स्तर बेहतर हो सके जो इस समय तेजी से नीचे गिर रहा है। वॉर्न ने ‘द वेस्ट ऑस्ट्रेलियन’ से कहा, ‘स्पिनर को हर मैच खेलना चाहिये, चाहे हालात कैसे भी हो। ताकि स्पिनर समझ सके कि पहले या चौथे दिन कैसी गेंद डालनी है। इस समय हालात अनुकूल होने पर ही प्रांतीय टीमें उन्हें चुनती हैं।’

उन्होंने कहा, ‘अगर वे प्रांतीय स्तर पर नहीं खेलेंगे तो सीखेंगे कैसे। प्रदेश की टीमों को हर मैच में एक विशेषज्ञ स्पिनर रखना चाहिए। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को इसमें प्रयास करने होंगे।’ वॉर्न ने कहा कि नाथन लियोन की जगह लेने के लिये प्रतिभाशाली स्पिनर की कमी है। उन्होंने कहा कि ड्राप इन पिचों से स्पिनरों का विकास नहीं हो पा रहा है।

उन्होंने कहा, ‘एक समय में हर प्रदेश में हालात अलग होते हैं लेकिन अब कृत्रिम पिचों का इस्तेमाल हो रहा है। इनके अधिक इस्तेमाल से बचना होगा।’ 50 वर्ष के इस महान स्पिनर का एक समय बोलबाला रहा है। दुनियाभर की पिचों पर उनकी तूती बोलती थी।

शेन वॉर्न के नाम 145 टेस्ट मैचों में 708 विकेट हैं, जो एक वक्त वर्ल्ड रेकॉर्ड था। उन्होंने वनडे करियर में 194 मैचों में 293 विकेट झटके हैं। उन्हें महान गेंदबाजों की लिस्ट में शामिल किया जाता है। उनके बाद ऑस्ट्रेलिया में उस लेवल का कोई स्पन गेंदबाज नहीं हुआ।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close