World News

कोरोना का कहर: अमेरिका में 20 साल बाद संक्रामक रोग आपातकाल घोषित, ट्रंप ने किया एलान

ख़बर सुनें

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रभाव को देखते हुए देश में संक्रामक रोग राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया। अब ट्रंप के लिए इस बीमारी से लड़ने को संघीय मदद के तौर पर करीब 50 अरब डॉलर की वित्तीय मदद उपलब्ध कराने का रास्ता खुल गया है। इससे पहले राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने 2000 में वेस्ट नीले वायरस से निपटने के लिए ऐसा आपातकाल घोषित किया था।

रोज गार्डन न्यूज कांफ्रेंस में आपातकाल की घोषणा करते हुए ट्रंप ने हर राज्य से अपील की कि वह इस बीमारी से लड़ने के लिए अपने यहां आपातकालीन केंद्रों की स्थापना करें। ट्रम्प के लिए 1988 के कानून के तहत संक्रामक रोग आपातकाल घोषित करने का दबाव बढ़ रहा था।

यह कानून संघीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी (फेमा) को राज्य सरकारों को आपदा निधि उपलब्ध कराने और सहायता टीमों को तैनात करने की अनुमति देता है। यह बेहद कम उपयोग की जाने वाली शक्ति है। 

बुल्गारिया में भी इमरजेंसी

बुल्गारिया की संसद ने देश में आपातकाल लगाने का ऐलान किया है। यह 13 अप्रैल तक लागू रहेगा। यहां पर कोरोना से पीड़ित लोगों की संख्या सात से करीब तीन गुना 23 तक पहुंच जाने को देखते हुए यह कदम उठाया गया। 

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रभाव को देखते हुए देश में संक्रामक रोग राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया। अब ट्रंप के लिए इस बीमारी से लड़ने को संघीय मदद के तौर पर करीब 50 अरब डॉलर की वित्तीय मदद उपलब्ध कराने का रास्ता खुल गया है। इससे पहले राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने 2000 में वेस्ट नीले वायरस से निपटने के लिए ऐसा आपातकाल घोषित किया था।

रोज गार्डन न्यूज कांफ्रेंस में आपातकाल की घोषणा करते हुए ट्रंप ने हर राज्य से अपील की कि वह इस बीमारी से लड़ने के लिए अपने यहां आपातकालीन केंद्रों की स्थापना करें। ट्रम्प के लिए 1988 के कानून के तहत संक्रामक रोग आपातकाल घोषित करने का दबाव बढ़ रहा था।

यह कानून संघीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी (फेमा) को राज्य सरकारों को आपदा निधि उपलब्ध कराने और सहायता टीमों को तैनात करने की अनुमति देता है। यह बेहद कम उपयोग की जाने वाली शक्ति है। 

बुल्गारिया में भी इमरजेंसी

बुल्गारिया की संसद ने देश में आपातकाल लगाने का ऐलान किया है। यह 13 अप्रैल तक लागू रहेगा। यहां पर कोरोना से पीड़ित लोगों की संख्या सात से करीब तीन गुना 23 तक पहुंच जाने को देखते हुए यह कदम उठाया गया। 


Source link

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close