Health News

कोविड-19: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर


दादी-नानी की रसोई में गुड़ और जीरा आम मिलने वाले चमत्कारी खाद्य सामग्री हैं। बड़े-बुजुर्गों का कहना है कि गुड़ और जीरे का एक साथ उपयोग करना स्वास्थ्य संबंधी बहुत से रोगों और परेशानियों से छुटकारा मिल जाता है।

आम भारतीय रसोई में आसानी से उपलब्ध गुड़ और जीरा सिर्फ स्वाद बढ़ाने का ही काम नहीं करते बल्कि इनके बहुत से चिकित्सकीय लाभ भी हैं। जीरे और गुड़ का एक साथ सेवन करने से वजन घटाने में आसानी होती है। भोजन और मिठाई बनाने में जिस गुड़ और जीरे का सदियोंसे हमारे भारतीय व्यंजनशाला में इस्तेमाल होता आया है उसका एकसाथ उपयोग करना अन्य कई स्वास्थ्य संबंध परेशानियों को दूर कर सकता है बस सही तरीका मालूम होना चाहिए। आइए हम बताते हैं आपको इनके औषधीय गुणों के बारे में।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

सामान्य सर्दी-खांसी एवं फ्लू से बचाए
मौसम बदलने के साथ ही सामान्य मौसमी बीमारियां जैसे सर्दी, खांसी और फ्लू से परेशान लोगों के लिए जीरा और गुड़ रामबाण औषधि की तरह कार्य करता है। गुड़ की तासीर गर्म होती है। गर्म तासीर वाले खाद्य पदार्थ सर्दी और खांसी की समस्या से निजात दिलाने में लाभदायक होते हैं। यही वजह है कि सर्दी, खांसी और फ्लू से जुड़े लक्षणों को दूर करने के लिए गुड़ का सेवन काफी हद तक आराम पहुंचा सकता है। खासकर जो लोग खांसी से परेशान हैं, उन्हें रात में सोने से पहले अदरक के छोटे टुकड़े के साथ गुड़ का सेवन करना राहत देता है।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

पेट और पाचन को रखे स्वस्थ
शरीर की लगभग 80 फीसदी बीमारियों की शुरुआत पेट से ही होती है। शरीर की लगभग सारी कार्यप्रणाली पाचन क्रिया से प्रभावित होती है जिसके कारण हमें विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व मिलते हैं और हमारे शरीर के उसी हिसाब से कार्य करते हैं। इसलिए पेट के स्वास्थ्य का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए जीरा और गुड़ प्रभावी रूप से मददगार साबित होंगे क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा पाई जाती है। फाइबर पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने का कार्य करता है और पेट से जुड़ी कई प्रकार की समस्याओं से भी निजात दिलाता है।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है
कोरोना (covid-19) जैसी महामारी के इस दौर मेंअ शरीर की इम्यूनिटी (immunity) बढ़ाना भी बहुत जरूरी है। अच्छी बात यह है कि गुड़ और जीरा रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में कारगर हैं। इन दोनों खाद्य पदार्थों में एंटी ऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसका सीधा असर इम्यून सेल्स को मजबूत करने के लिए प्रेरित करता है। इसके कारण रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में मदद भी मिलती है और आप कई प्रकार की संक्रामक बीमारियों की चपेट में आने से बचे रहते हैं।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

हृदय रोग में रामबाण है दोनों
हृदय रोग के कारण हर साल भारत में कई लोग अपनी जान गंवाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, पूरी दुनिया में हृदय रोग के कारण सबसे ज्यादा मौतें होती है। गुड़ और जीरे का सेवन हृदय रोग से बचाता है। दरअसलए गुड़ और जीरा दोनों कार्डियोप्रोटेक्टिव एक्टिविटी रखते हैं। यह दिल से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियों के खतरे को कई गुना तक काम कर सकते हैं। इसके कारण यह आपको ह्रदय रोग की चपेट में आने से बचा सकते हैं।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

वजन घटाने में कारगर
गुड़ और जीरे का एक साथ उपयोग करने से बढ़ा हुआ वजन कम किया जा सकता हे। दरअसल मोटापा या अनियमित रूप सेवजन का बढऩा टाइप-2 डायबिटीज और कई प्रकार के कैंसर का भी खतरा बढ़ा देता है और इस बारे में वैज्ञानिक प्रमाण भी उपलब्ध हैं। जबकि जीरे के पानी को उबालकर गुड़ के साथ इसका सेवन किया जाए तो वजन घटाने में प्रभावी रूप से मदद मिलती है। आप चाहें तो जीरे को भूनकर गुड़ के साथ खाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। कई लोगों के द्वारा इसका सेवन वजन को घटाने के लिए मुख्य रूप से किया जाता है।

एनीमिया के जोखिम को करे दूर
शरीर में खून की कमी होने की बीमारी को एनीमिया के नाम से जाना जाता है। यह समस्या मुख्य रूप से गर्भावस्था में महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशान करती है। जबकि गुड़ में मौजूद आयरन की भरपूर मात्रा का सेवन उचित मात्रा में किया जाए तो एनीमिया के खतरे को कई गुना तक कम किया जा सकता है। वहींए जीरे को गुड़ के साथ खाने से ब्लड सर्कुलेशन भी बहुत बेहतरीन हो जाता है।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करे
हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को हाइपरटेंशन के नाम से भी जाना जाता है। इसके कारण हृदय रोग से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियां और स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है। जबकि जीरा और गुड़ में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम की मात्रा हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम करने के लिए प्रभावी रूप से कार्य कर सकती है। इसलिए जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है उन्हें जीरे और गुड़ का सेवन डॉक्टर की सलाह लेने के बाद नियमित रूप से जरूर करना चाहिए।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

हड्डियों को बनाए सेहतमंद
गुड़ और जीरे के नियमित सेवन से हड्डियों को मजबूत बनती हैं। इसमें प्रमुख रूप से मौजूद कैल्शियम पोषक तत्वों की वजह से हड्डियों को मजबूती मिलती है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफॉरमेशन के अनुसार, इन दोनों खाद्य पदार्थों में हड्डियों को मजबूत बनाने का गुण पाया जाता है। एक रिसर्च के बाद इसकी पुष्टि भी की गई है। इसलिए बुजुर्ग लोगों और खेलकूद में सक्रिय बच्चों के लिए जीरे और गुड़ का सेवन हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए लाभदायक है।

कोविड-19 संक्रमण: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

डिस्क्लेमर- सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। राजस्थान पत्रिका इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।



Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close