World News

चीन में मुस्लिमों के शोषण पर घिरी सरकारी कंपनियों पर अमेरिकी रोक


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन
Updated Sun, 02 Aug 2020 12:53 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

अमेरिकी वित्त मंत्रालय ने चीन के शिनजियांग क्षेत्र में शक्तिशाली सरकारी इकाई चलाने वाली कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए हैं। चीन के इस प्रांत में अधिकारियों ने मुसलमानों को बड़े पैमाने पर नजरबंद किया हुआ है। ट्रंप प्रशासन ने चीन के इस उत्तर-पश्चिमी प्रांत में मुस्लिम जातीय अल्पसंख्यकों के विरुद्ध मानवाधिकारों के हनन का हवाला देते हुए यह रोक लगाई है।

अमेरिकी वित्त मंत्रालय के विदेशी संपत्ति नियंत्रण कार्यालय द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के तहत शिनजियांग उत्पादन और निर्माण कोर (एक आर्थिक व अर्द्धसैनिक संगठन) और दो संबंधित कमांडर अधिकारी पेंग जियारुई और सन जिनलॉन्ग पर कार्रवाई की है। यह संगठन शिंजियांग क्षेत्र के विकास में केंद्रीय भूमिका निभाता है और उइगर व अल्पसंख्यक मुस्लिमों पर ज्यादती के लिए जाना जाता है। 

यह प्रतिबंधात्मक आदेश उन्हें अमेरिकी संपत्ति और वित्तीय प्रणाली तक पहुंच से रोकने के लिए डिजाइन किया गया है। साथ ही उन पर अमेरिकी कंपनियों और नागरिकों के साथ किसी भी तरह से आर्थिक लेनदेन पर भी रोक लगा दी गई है। वित्त मंत्री स्टीवन टी. नुचिन ने कहा, अमेरिका निश्चित ही इस क्षेत्र को वैश्विक मानवाधिकार हनन की श्रेणी में रखता है जिस विरुद्ध वह अपनी वित्तीय शक्तियों का पूरा इस्तेमाल करने के लिए प्रतिबद्ध है।

अमेरिका में कुर्क हो सकती है संपत्ति

ट्रंप प्रशासन पहले भी शिनजियांग में कुछ अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा चुका है। मौजूदा प्रतिबंधों का मतलब है कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को रिपोर्ट करने वाली कंपनी प्रोडक्शन एंड कंस्ट्रक्शन कोर्प या उसके अधिकारी की किसी भी संपत्ति को अमेरिका में कुर्क किया जा सकता है। उन्हें अमेरिका में कारोबार करने की भी मनाही होगी। यह कंपनी शिनजियांग में अरबों डॉलर की विकास परियोजनाओं को देखती है।

अमेरिकी वित्त मंत्रालय ने चीन के शिनजियांग क्षेत्र में शक्तिशाली सरकारी इकाई चलाने वाली कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए हैं। चीन के इस प्रांत में अधिकारियों ने मुसलमानों को बड़े पैमाने पर नजरबंद किया हुआ है। ट्रंप प्रशासन ने चीन के इस उत्तर-पश्चिमी प्रांत में मुस्लिम जातीय अल्पसंख्यकों के विरुद्ध मानवाधिकारों के हनन का हवाला देते हुए यह रोक लगाई है।

अमेरिकी वित्त मंत्रालय के विदेशी संपत्ति नियंत्रण कार्यालय द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के तहत शिनजियांग उत्पादन और निर्माण कोर (एक आर्थिक व अर्द्धसैनिक संगठन) और दो संबंधित कमांडर अधिकारी पेंग जियारुई और सन जिनलॉन्ग पर कार्रवाई की है। यह संगठन शिंजियांग क्षेत्र के विकास में केंद्रीय भूमिका निभाता है और उइगर व अल्पसंख्यक मुस्लिमों पर ज्यादती के लिए जाना जाता है। 

यह प्रतिबंधात्मक आदेश उन्हें अमेरिकी संपत्ति और वित्तीय प्रणाली तक पहुंच से रोकने के लिए डिजाइन किया गया है। साथ ही उन पर अमेरिकी कंपनियों और नागरिकों के साथ किसी भी तरह से आर्थिक लेनदेन पर भी रोक लगा दी गई है। वित्त मंत्री स्टीवन टी. नुचिन ने कहा, अमेरिका निश्चित ही इस क्षेत्र को वैश्विक मानवाधिकार हनन की श्रेणी में रखता है जिस विरुद्ध वह अपनी वित्तीय शक्तियों का पूरा इस्तेमाल करने के लिए प्रतिबद्ध है।

अमेरिका में कुर्क हो सकती है संपत्ति

ट्रंप प्रशासन पहले भी शिनजियांग में कुछ अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा चुका है। मौजूदा प्रतिबंधों का मतलब है कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को रिपोर्ट करने वाली कंपनी प्रोडक्शन एंड कंस्ट्रक्शन कोर्प या उसके अधिकारी की किसी भी संपत्ति को अमेरिका में कुर्क किया जा सकता है। उन्हें अमेरिका में कारोबार करने की भी मनाही होगी। यह कंपनी शिनजियांग में अरबों डॉलर की विकास परियोजनाओं को देखती है।



Source link

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close