Sports News

पाकिस्तान टीम के खराब प्रदर्शन को लेकर शोएब अख्तर ने मिस्बाह उल हक पर साधा निशाना



Image Source : GETTY IMAGES
पाकिस्तान टीम के खराब प्रदर्शन को लेकर शोएब अख्तर ने मिस्बाह उल हक पर साधा निशाना

पाकिस्तान क्रिकेट टीम हाल ही में इंग्लैंड का दौरा खत्म कर अपने देश वापस लौटी। इस दौरे पर पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में 1-0 से हार का सामना करना पड़ा जबकि 3 मैचों की T20I सीरीज 1-1 से बराबर रही। इस दौरे पर पाकिस्तान टीम के खराब प्रदर्शन के लिए पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने टीम के हेड कोच मिस्बाह उल-हक पर निशाना साधा है।

पाकिस्तान टींम के खराब परिणामों के कारण मिस्बाह पर काफी दबाव है। पिछले 12 महीनों में पाकिस्तान ने दो टेस्ट जीते हैं और तीन में उसे हार का मुंह देखना पड़ा है। वहीं, तीन में से दो वनडे मैच जीते (एक मैच बारिश के कारण रद्द हो गया) हैं और 12 में से तीन T20I में टीम को हार झेलनी पड़ी है।

ENG vs AUS : बतौर कप्तान मोईन अली को पहले मैच में मिली हार तो इसे बताया टीम की कमजोरी

इस मामले में अख्तर ने मिस्बाह को घेरते हुए कहा कि उन्हें कोई बहाना नहीं बनाना चाहिए और नतीजों के बारे में जानकारी लेनी चाहिए। अख्तर ने जियो टीवी को बताया, “ईमानदार और मजबूत लोग शिकायत नहीं करते, लेकिन निर्णय लेते हैं। अगर मैं उसकी जगह होता, तो मैं कहता कि यह मेरी गलती है, मैं इसे सही करूंगा। वह सीधी बात है। उन्हें कहना चाहिए था कि जो पहले हुआ था या नहीं हुआ था वह पीछे छूट गया है और अब जब मैं नौकरी पर हूं, तो मैं चीजों को बेहतर करूंगा।”

उन्होंने कहा, “इधर-उधर की बातें करना शायद मिस्बाह का काम है लेकिन यह मैं नहीं हूँ। मैं उसके जैसा नहीं हूं। जो कुछ भी हुआ है, अब आप वहां हैं, आपको विश्वास के साथ कहना होगा कि आप अभी वहां हैं। आप देखेंगे कि चीजों को सही कैसे किया जाए।”

ENG v AUS : ऑस्ट्रेलिया ने जीता तीसरा T20I मैच, इंग्लैंड ने 2-1 से सीरीज पर किया कब्जा

गौरतलब है कि जब पिछले साल मिस्बाह को मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया गया था, तब पाकिस्तान दुनिया में नंबर एक T20 टीम थी लेकिन अब वे चौथे स्थान पर खिसक गए हैं। इस बीच, खेल के सबसे लंबे प्रारूप में पाकिस्तान अब सातवें स्थान पर है।

कोरोना से जंग : Full Coverage



Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close