Business News

Coronavirus की वजह से Real Estate में 2 लाख नौकरी पर खतरा


नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus Impact ) का जबरदस्त असर देखने को मिला है। कई सेक्टर्स से नौकरी जा चुकी है। एविएशन सेक्टर ( Aviation Sector ) से लेकर ऑटो सेक्टर ( Auto Sector ) तक के लोगों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है। अब इसकी मार रियल एस्टेट सेक्टर ( Real Estate Sector ) में देखने को मिलने वाली है। जानकारों की मानें तो नोटबंदी ( Notebandi ), रियल एस्टेट नियमन अधिनियम ( RERA ), माल एवं सेवा कर ( GST ) जैसी नई व्यवस्थाओं को लागू होने के बाद आने वाली रुकावटों की वजह से पहले ही पिछले पांच साल से सेक्टर दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अब कोरोना की वजह से खरीदारों की धारणा और बिक्री को प्रभावित कर रियल एस्टेट सेक्टर की दिक्कतों को और ज्यादा बढ़ा दिया है।

ATM से Cash निकालते समय रखें इन बातों का रखें ख्याल, वर्ना हो सकता है नुकसान

दो लाख लोगों की नौकरियों पर खतरा
सेक्टर से जुड़े अनुमानों के अनुसार रियल एस्टेट सेक्टर में 60-70 लाख लोग कार्यरत हैं, जिनमें तीन लाख व्हाइट कॉलर कर्मचारी भी शामिल हैं। myhiringclub.com और sarkarinaukri.info के अनुमान के मुताबिक रियल एस्टेट सेक्टर में करीब दो लाख लोगों की नौकरियों पर संकट है। अनुमान के अनुसार अब तक 60 हजार से अधिक लोग नौकरी गंवा चुख्के हैं। जानकारों की मानें तो सेक्टर की बिक्री पर जबरदस्त असर देखने को मिला है। जिसकी वजह से कंपनियों के लाभ को प्रभावित करेगा। पहले से सेक्टर कैश कं्रच की मार झेल रहे हैं। जिसकी वजह से कर्मचारियों की छंटनी के साथ ऑफिस भी बंद कर रहे हैं।

Insurance policy का नाम बताकर 30 हजार रुपए जीतने का मौका, बस करना होगा यह काम

रेवेन्यू को बड़ा नुकसान
जानकारी के अनुसार कंपनी को नौकरियों और वेतन दोनों में 15-20 फीसदी की कटाती करने पर मजबूर होना पड़ा है। नॉन-ब्रोकिंग रियल एस्टेट शोध कंपनी लियसेस फोरास की एक रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन के प्रत्येक महीने में राजस्व का 8.3 प्रतिशत का नुकसान हुआ है. रिपोर्ट में कहा गया है कि जून के अंत तक, आवासीय अचल संपत्ति बाजार में राजस्व का नुकसान 26.58 फीसदी पर रहेगा, जो जुलाई अंत तक बढ़कर 35.07 फीसदी तक हो जाएगा।

एक दिन की राहत के बाद Petrol और Diesel के दाम में फिर इजाफा, जानिए आज कितने हो गए हैं दाम



Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close