World News

Iran ने Donald Trump समेत 30 सहयोगियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया, इंटरपोल से मांगी मदद


तेहरान। ईरानी रिवॉल्युशनरी गार्ड के कुद्स फोर्स के मुखिया रहे कासिम सुलेमानी (Qasem Soleimani)की मौत का बदला लेने के लिए ईरान हर मुमकिन प्रयास कर रहा है। अमरीका ने ड्रोन हमले से उनकी हत्या कर दी थी। ऐसे में अब ईरान अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump)और अन्य लोगों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। इसके साथ ही ईरान ने इंटरपोल की मदद भी ली है। इसकी जानकारी स्थानीय अभियोजक ने दी है।

हालांकि, ईरान के इस कदम से ट्रंप को गिरफ्तारी का कोई खतरा नहीं है, मगर इन आरोपों से ईरान और अमरीका के बीच तनाव चरम पर पहुंच चुका है। यह तनाव ईरान और दुनिया की प्रमुख शक्तियों के साथ हुए परमाणु समझौते से ट्रंप के अलग हो जाने के साथ शुरू हुआ था। ईरान ट्रंप का कार्यकाल खत्म होने के बाद भी अभियोजन को जारी रखेगा।

तेहरान के अभियोजक अली अलकासीमहर के अनुसार ईरान ने तीन जनवरी को बगदाद में हुए ड्रोन हमले के लिए ट्रंप और उनके 30 सहयोगियों पर आरोप लगाया है। इस हमले में जनरल कासिम सुलेमानी की मौत हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अलकासीमर ने ट्रंप के अलावा किसी अन्य की पहचान नहीं की।

इंटरपोल ने नहीं दिया कोई जवाब

इस मामले में इंटरपोल की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है। ऐसी संभावना भी नहीं है कि इंटरपोल ईरान के अनुरोध को स्वीकार करेगा। ऐसे इसलिय क्योंकि उसके दिशानिर्देश के अनुसार वह किसी राजनीतिक मामले में हस्तक्षेप नहीं करता है।

तीन जनवरी को हुआ था ड्रोन हमला

अमेरिका ने तीन जनवरी को ड्रोन हमले में सुलेमानी को मारा था जब वह अपने काफिले के साथ बगदाद में थे। ईरान ने इसका बदला लेने के लिए अल-असद और इबरिल स्थित दो अमरीकी सैन्य ठिकानों पर 22 मिसाइलें दागी थीं। उसके बाद दोनों देशों के बीच युद्ध छिड़ने की आशंका गहरा गई थी।





Source link

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close